February 26, 2024 11:56 pm

February 26, 2024 11:56 pm

मऊ:नगर पालिका परिषद मऊ के अध्यक्ष पद को अनारक्षित करने पर आपत्ति

मऊ | आम आदमी पार्टी के पूर्व जिला महासचिव सुशील चौधरी ने मंगलवार को नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर नगर पालिका परिषद मऊ के अध्यक्ष पद को अनारक्षित करने पर आपत्ति की
अपने आपत्ति पत्र के माध्यम से सुशील चौधरी ने बताया कि नगर पालिका परिषद मऊ का चुनाव लगभग सन 1953 से हो रहा है लेकिन आज- तक कभी भी अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित नहीं हुआ है हर बार पिछड़ी या पिछड़ी महिला, अनारक्षित या अनारक्षित महिला होता रहा है जबकि क्रमवार आरक्षण के अनुसार अनुसूचित जाति वर्ग के लिए भी आरक्षित होना विधि-विधान में है और कहा कि इस समय नगर पालिका के सीमा विस्तार में 54 गांव उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सम्मिलित कर लिया गया है जिससे नगरपालिका के अंदर अनुसूचित जाति वर्ग की जनसंख्या पहले से बहुत ज्यादा बढ़ गई है इस दशा में भी नगर पालिका परिषद मऊ का अध्यक्ष पद अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित न होना लोकतंत्र का उल्लंघन व अनुसूचित जाति वर्ग के अधिकारों पर कुठाराघात हो रहा है जनपद मऊ में इस समय 1 नगर पालिका व 10 नगर पंचायत है जिसमें अध्यक्ष का पद अनुसूचित जाति वर्ग के लिए कोई भी सीट आरक्षित नहीं हुई है जबकि वर्ष 2012 में जनपद मऊ में 1 नगर पालिका व 6 नगर पंचायत थी जिसमें उस समय नगर पालिका परिषद मऊ की सीट अनारक्षित महिला व नगर पंचायत अमिला अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हुई थी जबकि अमिला नगर पंचायत में अनुसूचित जाति वर्ग की जनसंख्या बहुत कम थी लेकिन क्रमवार आरक्षण में अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हुई थी
उन्होंने अपने पत्र के माध्यम से नगर पालिका परिषद मऊ के अध्यक्ष पद को अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित करने की मांग की

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?