February 27, 2024 12:12 am

February 27, 2024 12:12 am

मऊ:सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, घोसी का जिलाधिकारी ने किया आकस्मिक निरीक्षण।

परिसर में गंदगी, रंगाई पुताई की खराब स्थिति एवं हेल्थ ए.टी.एम.कक्ष में ताला बंद होने पर चिकित्सा अधीक्षक को लगाई कड़ी फटकार।

बाहर की दवा लिखने पर डॉक्टरों को दी कड़ी कार्यवाही की चेतावनी।

आज जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, घोसी का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान अस्पताल परिसर में साफ सफाई की व्यवस्था ठीक ना होने, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की रंगाई पुताई की जर्जर स्थिति, टूटी खिड़कियां एवं हेल्थ ए.टी.एम.कक्ष में ताला बंद हो पाए जाने पर जिलाधिकारी ने चिकित्सा अधीक्षक को कड़ी फटकार लगाते हुए परिसर में विशेष साफ सफाई के निर्देश दिए। हेल्थ ए.टी.एम.कक्ष के बंद ताले को खुलवाने के उपरांत वहां कार्यरत कर्मचारी द्वारा ठीक ढंग से परीक्षण प्रक्रिया न कर पाने पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को तत्काल वहां पर प्रशिक्षित कर्मचारी रखने के निर्देश दिए, साथ ही कक्ष में पुनः ताला बंद पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी। निरीक्षण के दौरान ही जिलाधिकारी ने वहां उपस्थित मरीजों से भी बातचीत की एवं कुछ मरीजों द्वारा बाहर से दवा लेने का मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने चिकित्सा अधीक्षक एवं डॉक्टरों को कड़ी फटकार लगाते हुए बाहर की दवा ना लिखने की चेतावनी दी। दवा वितरण काउंटर के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने तहसीलदार घोसी को पिछले 1 सप्ताह के दवा वितरण से संबंधित आपूर्ति एवं मांग की पूरी सप्लाई चेन की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने एंटी रेबीज टीका लगने के कक्ष, एक्स-रे कक्ष, पैथोलॉजी लैब एवं वार्डो का भी निरीक्षण किया। गोल्डन कार्ड बनाए जाने हेतु निर्धारित कक्ष के निरीक्षण के दौरान कार्ययोजना के अनुसार गोल्डन कार्ड ना बनाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इस संबंध में तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेश अग्रवाल, चिकित्सा अधीक्षक घोसी, तहसीलदार घोसी, एवं अन्य संबंधित अधिकारी/ कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?