February 26, 2024 10:34 pm

February 26, 2024 10:34 pm

रिटायर्ड हवलदार निकले इंस्पेक्टर साहब: रौब जमाने को बनकर आया था थाना प्रभारी, असली पुलिस से सामने बंधी घिग्घी

ख़बर सुनें

दिल्ली पुलिस का एक हवलदार सेवानिवृत होने के बाद थाना प्रभारी बन गया। आपको यह सुनकर आर्श्चय होगा, लेकिन साउथ रोहिणी इलाके में ऐसा वाक्या सामने आया है। नकली थाना प्रभारी बनकर हवलदार एक युवक को उधार में दिए रुपये वापस करवाने में मदद का आश्वासन दे रहा था। साउथ रोहिणी थाना पुलिस ने नकली थाना प्रभारी को गिरफ्तार कर लिया है।  

आरोपी की पहचान 60 वर्षीय जय भगवान के रूप में हुई है। वह दिल्ली पुलिस की कम्यूनिकेशन यूनिट में हवलदार के पद से सेवानिवृत हुआ था। वह मंगोलपुर कलां इलाके में रहता है। रोहिणी जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने बताया कि 17 सितंबर को सेक्टर 16 रोहिणी निवासी राघव साउथ रोहिणी थाने पहुंचा। उसने पुलिस कर्मी को बताया कि एक व्यक्ति सुबह से उसे फोन कर रहा है। वह खुद को समयपुर बादली थाने का प्रभारी बता रहा है और कह रहा है कि वह प्रवीन गुप्ता को दिए उधार के पैसे को वापस करवाने में उसकी मदद कर सकता है। 

पीड़ित फोन पर बात होने के बाद समयपुर बादली थाने पहुंचा और आरोपी का नाम बताकर थाना प्रभारी के बारे में जानकारी मांगी। वहां से पीड़ित को पता चला कि इस नाम का थाना प्रभारी यहां तैनात नहीं हैं। पीड़ित ने आरोपी से फोन पर बात की तो उसने खुद को साउथ रोहिणी थाने का प्रभारी बताया। उसने बताया कि वह अभी अवंतिका सेक्टर तीन रोहिणी में मौजूद है।

पीड़ित ने इसकी शिकायत साउथ रोहिणी थाने में की और फोन कर आरोपी को मिलने के लिए सेक्टर दो रोहिणी बुलाया। पीड़ित के साथ दो पुलिसकर्मी वहां पहुंचे और छिपकर आरोपी का इंतजार करने लगे। कुछ देर बाद दिल्ली पुलिस के निरीक्षक की वर्दी पहनकर आरोपी वहां पहुंचा। जिसे पुलिसकर्मियों ने हिरासत में ले लिया।

पूछताछ करने पर आरोपी कुछ नहीं बता रहा था। पुलिसकर्मी उसे लेकर थाने पहुंचे। जहां पूछताछ में पता चला कि आरोपी दिल्ली पुलिस का जवान रह चुका है। वह कम्यूनिकेशन यूनिट हैदरपुर में हवलदार के पद से 31 अगस्त को सेवानिवृत हुआ है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

विस्तार

दिल्ली पुलिस का एक हवलदार सेवानिवृत होने के बाद थाना प्रभारी बन गया। आपको यह सुनकर आर्श्चय होगा, लेकिन साउथ रोहिणी इलाके में ऐसा वाक्या सामने आया है। नकली थाना प्रभारी बनकर हवलदार एक युवक को उधार में दिए रुपये वापस करवाने में मदद का आश्वासन दे रहा था। साउथ रोहिणी थाना पुलिस ने नकली थाना प्रभारी को गिरफ्तार कर लिया है।  

Source link

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?