February 26, 2024 11:42 pm

February 26, 2024 11:42 pm

कृषि विज्ञान केंद्र पिलखी, मऊ में विराट किसान मेला एवं कृषि उद्योग प्रदर्शनी संपन्न।

कृषि की नवीनतम तकनीकों को किसानों के द्वार तक पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत किसान मेला एवं कृषि उद्योग प्रदर्शनी तथा कृषि संगोष्ठी का आयोजन कृषि विज्ञान केंद्र, पिलखी, पर किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि डॉ विजेंद्र सिंह, माननीय कुलपति, आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या, विशिष्ट अतिथि जिला भाजपा अध्यक्ष श्री प्रवीण कुमार गुप्ता तथा मेले की अध्यक्षता निदेशक प्रसार कृषि विश्वविद्यालय अयोध्या ने किया। मेले में विभिन्न कंपनियों के 15 से ज्यादा स्टाल लगाए गए तथा जनपद के कुल 800 से अधिक किसानों ने प्रतिभाग किया।
मेले का शुभारंभ फीता काटकर माननीय कुलपति ने किया। उन्होंने अपने अभिभाषण में कृषि को ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए केंद्र केंद्र पर चल रहे विभिन्न परियोजना जैसे डीएसआर तकनीक, प्राकृतिक खेती, सीआरएम, सीएफएलडी योजनाओं की काफी तारीफ की। उन्होंने केंद्र को राष्ट्रीय स्तर का एक शोध संस्थान बताया। जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता ने किसानों को नई तकनीकों से जुड़ने के लिए तथा सरकार द्वारा कृषि पर अधिक ध्यान देने के लिए माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई। निदेशक प्रसार प्रोफेसर एपी राव ने बत्तख पालन के साथ मछली पालन का जीवंत प्रदर्शन देखकर केंद्र के तकनीकी पहलुओं पर प्रकाश डाला। केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ सी वर्मा ने केंद्र पर चल रहे बकरी पालन, कुकुट पालन, मधुमक्खी पालन, बत्तख पालन, मछली पालन, मशरूम उत्पादन, वर्मी कंपोस्ट, नाडेप कंपोस्ट, अजोला तथा विभिन्न प्रकार के फसल संग्रहालय पर प्रकाश डाला और किसानों को इससे रूबरू कराया। जिला उद्यान अधिकारी श्री संदीप गुप्ता ने केंद्र पर स्थापित हो रही हाईटेक नर्सरी में रूपये एक करोड़ 91 लाख अपने विभाग द्वारा मदद की। श्री एस पी श्रीवास्तव उपनिदेशक कृषि ने कृषि विभाग की योजनाओं के विषय में किसानों को परिचित कराया। रिचा चौधरी अपर निदेशक मत्स्य विभाग ने मछली की योजनाओं तथा मछली द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रकार के पकवान पर प्रकाश डाला। मेले का मुख्य आकर्षण दलहनी, तिलहनी एवं सब्जियों का बीज था। किसानों को मौसमी सब्जियों का बीज तथा मूंग का बीज निशुल्क वितरित किया गया। किसानों को लंच पैकेट के साथ विश्वविद्यालय द्वारा प्रदत्त गमछा भी निशुल्क प्रदान किया गया। मेले में स्टाल लगाने वालों में कृषि विभाग, इफको, मत्स्य विभाग, बीज विज्ञान संस्थान, कृषि विज्ञान केंद्र देवरिया, कृषि विज्ञान केंद्र बलिया, केवीके गाज़ीपुर, केवीके आजमगढ़, केवीके मऊ, एपीओ, मीना शुक्ला द्वारा स्टाल लगाया गया।
मेले में जिला कृषि अधिकारी उमेश कुमार, रिचा चौधरी एडीशनल डायरेक्टर मत्स्य, एसपी श्रीवास्तव उपनिदेशक कृषि, हर्षवर्धन सिंह एरिया मैनेजर इफको, डा. संजय कुमार निदेशक भारतीय बीज विज्ञान संस्थान, कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ अंगद प्रसाद, लाल पंकज सिंह, डा. हिमांशु राय, डा. चंदन सिंह, डा. जितेंद्र कुशवाहा, डा. ज्ञानदीप गुप्ता, आरके सिंह, आलोक कुमार, दीपक प्रकाश, सुनील कुमार का योगदान काफी सराहनीय रहा।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?