February 26, 2024 11:29 pm

February 26, 2024 11:29 pm

मऊ:जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कानून व्यवस्था एवं अभियोजन शाखा की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न।

अवैध शराब,नए शिक्षा एवम् भू माफियाओं,मादक पदार्थों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने के दिए निर्देश।

आज जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार की अध्यक्षता में कानून व्यवस्था एवं अभियोजन शाखा की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न हुई।
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने अवैध शराब, नए शिक्षा एवम् भू माफियाओं के चिन्हीकरण,मादक पदार्थों, संगठित अपराध के खिलाफ लगातार अभियान चलाकर कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने आबकारी विभाग एवं पुलिस विभाग को संयुक्त टीम बनाकर लगातार अवैध शराब के कारोबार पर नजर रखने के निर्देश दिए साथ ही अवैध शराब का धंधा करने वालों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्यवाही करने को भी कहा। उन्होंने आबकारी एवं पुलिस की संयुक्त टीमों द्वारा नियमित रूप से शराब की दुकानों की चेकिंग करने के साथ ही चीनी मिल घोसी में उत्पादित एथेनॉल की बिक्री पर भी बारीक नजर रखने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने समस्त थानाध्यक्षों को गैंगस्टर के तहत की गई कुर्क की कार्यवाही की अनुपालन आख्या यथाशीघ्र प्रेषित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने गुंडा एक्ट के तहत जिला बदर किए गए लोगों को नोटिस की तामिला तत्काल कराने के उपरांत उनके जिला बदर की स्थिति का भौतिक सत्यापन करने के साथ ही उन पर जिला बदर के दौरान लगातार कड़ी नजर रखने के भी निर्देश दिए। नए शिक्षा माफियाओं के चिन्हीकरण की चर्चा के दौरान जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक को जनपद के समस्त विद्यालयों की स्थापना, उनकी मान्यता आदि संबंधित सारी डिटेल रिपोर्ट बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों को सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जे को तत्काल हटाने के साथ ही न्यायालयों द्वारा पारित आदेशों का शत प्रतिशत अनुपालन कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने 5 वर्ष से पुराने सभी लंबित मामलों का प्राथमिकता के आधार पर यथाशीघ्र निस्तारण करने के भी निर्देश समस्त उप जिलाधिकारियों को दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थित समस्त अधिकारियों को जनपद में घटित होने वाले घटनाओं पर बारीक नजर रखने के साथ ही इन घटनाओं के संबंध में तत्काल उच्च अधिकारियों को भी सूचित करने को कहा। सार्वजनिक तथा धार्मिक स्थलों पर ध्वनि विस्तारक यंत्रों द्वारा निर्धारित मानकों का अनुपालन न करने पर उन्होंने समस्त थानाध्यक्षों को संबंधित को तत्काल नोटिस देने के साथ ही आवश्यक होने पर उसका लाइसेंस निरस्त करने के भी निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने जनपद में गुंडा प्रवृत्ति के लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ धारा 107,116,151 के तहत प्रथम बार निरोधात्मक कार्यवाही करने के उपरांत दोबारा ऐसा करने पर चालान करने के साथ ही प्रथम बार की जमानत राशि को जब्त करने के भी निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने एससी/ एसटी एक्ट एवं महिला उत्पीड़न में की गई कार्रवाई के अलावा यातायात व्यवस्था एवं शहर के प्रमुख चौराहों तथा मार्गों पर लगने वाले सीसीटीवी कैमरों की अद्यतन स्थिति के संबंध में भी समीक्षा की।
अभियोजन शाखा की बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने बारी-बारी से गैंगस्टर एक्ट,पॉक्सो एक्ट, एससी/एसटी एक्ट, महिला संबंधित अपराधों एवं जहरीली शराब के मामलों पर अब तक अभियोजन पक्ष द्वारा की गई कार्यवाही की विस्तार से समीक्षा की। अभियोजन शाखा द्वारा गत माह 15 लोगों को सजा दिलाई गई जिसमें से सेशन कोर्ट से दो लोगों को सजा दिलाने में अभियोजन पक्ष सफल रहा। कुछ मामलों में फर्जी जमानत दार का मामला संज्ञान में आने पर जिलाधिकारी ने अभियोजन पक्ष को ऐसी जमानत को निरस्त कराने के साथ ही उनके खिलाफ एफ.आई. आर. दर्ज कराने के भी निर्देश दिए।
बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री अविनाश पांडे ने अभियोजन शाखा एवं पुलिस को आपसी समन्वय बनाते हुए अपराधियों को दंड दिलाने हेतु अधिक प्रयास करने को कहा जिससे जनपद को अपराधों से मुक्त रखने में मदद मिल सके।
बैठक के दौरान अपर जिला अधिकारी श्री भानु प्रताप सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक, नगर मजिस्ट्रेट श्री नीतीश कुमार सिंह, समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त थानाध्यक्ष एवं अभियोजन पक्ष के समस्त अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?